Applet in java in Hindi-एप्लेट जावा क्या है ?

हेल्लो दोस्तों ! आप java में बारे में अच्छी तरह जान चुके होंगे की java क्या होता है कैसे काम करता है और भी बहुत कुछ |आज इस पोस्ट में Applet in java in Hindi में बारे में बताया जा रहा है तो चलिए शुरू करते है –

Java Applets

Java Applets का परिचय

Applets एक Java Program होता है जो ब्राउज़र(browser) में रन होता है ये एक ऐसा program होता है जो html के साथ काम कर सकते है इसे html code में ही include कर लिया जाता है

load java program in html page

Java program की फाइल और html program की फाइल्स अलग अलग होती है html में java program को load करने के लिए आप <applet> tag का प्रयोग करते है जब कोई भी यूजर इस html page को browser पर देखता है तो html के साथ जावा program भी load हो जाता है लेकिन इसके लिए आपको applet(जावा program) को और html फाइल को एक सर्वर पर सेव(save) करना पड़ता है

extends java applet class

applet ऐसा java program होता है जो applet class को extend करता है और applet program को .class एक्सटेंशन(extension) से save किया जाता है जव कोई यूजर browser में applet को देखता है तो applet का code यूजर की मशीन(machine) में डाउनलोड(download) हो जाता है

Is a client side Application

पहले applet का code यूजर की machine में download होता है फिर applet browser में run होता है इसलिए आप कह सकते है की applet client side application होती है applets को run होने के लिए JVM(java virtual machine) की जरूरत होती है

JVM browser plugin के रूप मर भी हो सकता है या आपके system में भी हो सकता है

applet program को आप browser में न देख कर एक applet viewer में भी देख सकते है जब आप किसी applet program को html में include न करके directly run करवा देते है तो java automatically applet को applet viewer में शो(show) कर देता है

Does not have main() method

एक applet java program में main() method नहीं होता है applet class कोई life cycle methods प्रोविडे(provide) करती है जिनमे applet को हैंडल किया जाता है हर method को एक specific task को परफॉर्म करने के लिए बनाया गया है applet की life cycle में ये सभी methods एक न एक बार जरुर एक्सीक्यूट किये जाते है

तो अब इन सभी methods के बारे में डिटेल्स से जानने का प्रयास करते है

life cycle of java applets

applets class 5 important methods provide करता है जिन्हें आप override करते है इन methods को life cycle methods भी कहते है एक applet program अपनी life cycle में इन सभी methods से होकर गुजरता है ये सभी methods आपको applet program पर पूरा पूरा कण्ट्रोल provide करता है

  • init() – इस method में आप variables को initialize कर सकते है या फिर कोई object create कर सकते है किसी भी तरह का initialization आप इस method में कर सकते है जैसे की applet का background color set कर सकते है
  • start() – ये method init() method के बाद automatically कॉल होता है ये method browser में applet को कॉल करता है
  • stop() – ये method applet में stop करने के लिए प्रयोग किया जाता है आप जब applet वाले html page को छोड़ कर किसी दूसरी विंडो(window) पर जाते है तो ये method कॉल होता है और applet pause हो जाता है जब आप वापस उसी window पर आते है तो applet फिर से शुरू हो जाता है
  • destroy() – जब आप browser को close करते है तो ये method call होता है और applet destroy हो जाता है
  • point() – इस method को आप applet में कुछ draw करने के लिए प्रयोग किया जाता है ये method start() method के बाद कॉल(call) होता है
life cycle of java applets

example 1:create java applet

HTML file

<html>
<head>
<title>applet example</title>
</head>
<applet code=”picture.class” 
width=”300” height=”300”>
</applet>
<html>

Java file

Class picture extends applet
{
     Public void int()
     {
      void setbackground(color.red);
      }
      public void paint(graphics g)
            {
             g.drowString(“applet are for GUI”30,30);
             }
}

Parameter passing in java applets –

आप java फाइल को html file के through parameters भी पास कर सकते है कई बार ऐसा होता है की आप इनपुट user से किसी form के द्वारा लेते है और further processing के लिए आपको इस इनपुट को java file को पास(pass) करने की आवश्यकता होती है

<param> tag

इसलिए applet API(application program interface) पैरामीटर का feature provide करता है java file को parameter pass करने के लिए HTML एक <param> नाम का tag provide करती है इस tag को आप <applet> starting और </applet> closting tags के बीच में लिखते है इस tag के 2 ऐट्रिब्यूट्स(attributes) होता है

पहला attribute name होता है इस attribute में आप उस वैल्यू का नाम लिखते है जो आप parameters के द्वारा pass करना चाहते है दुसरे attribute की वैल्यू होता है इसे आप name attribute में pass किय गए नाम की वैल्यू देते है ये key वैल्यू pair की तरह work करते है

get parameters() method

java file में इन parameters को include करने के लिए सबसे पहले आप एक वेरिएबल(variable) create करते है इसके बाद आप इस variable की वैल्यू provide करने के लिए एक get Parameters() method call करते है इस method में आप उस parameter का नाम pass करते है जिसकी वैल्यू आप variable में store करवाना चाहते है ये method उस parameter की value variable में store कर देते है

example 2:pass parameter to java applet

HTML file

<html>
<head>
<title>applet example</title>
</head>
<applet code=”picture.class”
 width=”300” height=”300”>
<param name=user Name 
value=ashwani verma>
</applet>
</html>

Java file

class userName extends Applet
{
   string username;
    public void start()
    {
       username =get  Parameter(“userName”);
     }
     public void paint(graphics g)
      {
          g.drawString(username,30,30);
      }
}

नोट:-applet की मदद से कई प्रकार की graphics डिजाईन कर सकते है

reference-https://www.javatpoint.com/java-applet

निवेदन :-अगर आपको यह आर्टिकल(Applet in java in Hindi) उपयोगी लगा हो तो इस आप अपने क्लासमेट ,दोस्तों  के साथ अवश्य share कीजिये और आपके जो भी इस पोस्ट्स से related(सम्बन्धित) questions है तो आप उन्हें निचे कमेंट कर सकते है हम उसके  answer अवश्य करेंगे(Applet in java in Hindi) Thanks

Leave a Comment