8086 pin diagram in hindi-8086 पिन डायग्राम हिंदी में

हेल्लो दोस्तों आज के इस पोस्ट में आपको 8086 pin diagram in hindi के बारे में बताया गया है की क्या होता है कैसे काम करता है तो चलिए शुरू करते है

8086 का पिन डायग्राम(Pin Details of 8086)

डायग्राम में 8086 का पिन डायग्राम दिया गया है यह एक 40 पिन IC पैकेज का होता है डायग्राम से स्पष्ट हिया की 8086 को Vcc पिन 40 पर दी जाती है तथा पिन 1 एवं 20 को ग्राउंड किया जाता है पिन 19 (CLK) क्लॉक इनपुट के लिए है 8086 को उसके internal ऑपरेशन सिंक्रोंनईज करने के लिए किसी एक्सटर्नल क्रिस्टल कंट्रोल्स क्लॉक गेनेर्टर से क्लॉक सिगनल दिया जाता है 8086 के विभिन्न versions की अधिकतम क्लॉक फ्रीक्वेंसी (frequency) 8 Mhz से 10 MHz तक है

डायग्राम

AD0-AD15: ये एड्रैस-डेटा बस हैं। हम अध्ययन कर चुके हैं कि 8086 में एक 20-बिट एड्रेस बस तथा 16-बिट म होती है। परन्तु चित्र 10.9 में एक दृष्टि पर 36 लाइनें नहीं दिखायी देतीं। इसका कारण यह है कि पिन की संख्या कम के लिए lower 16-एड्रेस लाइनें डेटा बस के साथ मल्टीप्लैक्स्ड (multiplexed) होती हैं।

केवल ऐसा करने पर ही 8086 पिन पैकेज में समायोजित (fit) किया जा सका है। डेटा बस लाइन्स, AD -ADI मशीन चक्र (machine cycle) के में एड्रेस ट्रांसमिट करने के लिए तथा मशीन चक्र के अन्त में डेटा रिसीव करने अथवा ट्रांसमिट करने के लिए प्रयुक्त की जाती हैं।

मैमोरी एड्रेस ट्रांसमिट करने के लिए इन लाइनों को AD के स्थान पर केवल A द्वारा (AD-A15) प्रदर्शित करते हैं तथा AD लाइनों पर डेटा ट्रांसमिट करने के लिए केवल D का प्रयोग करते हैं उदाहरणत: D0-D7,D8-D15…..

A16-A19 : ये high-order एड्रैस बस हैं। ये स्टेटस सिगनलों के साथ मल्टीप्लैक्स्ड होती हैं। इन पिनों पर डबल निमोनिक यह प्रदर्शित करता है कि A1 से A1 तक एड्रैस बिट्स, मशीन चक्र के पहले भाग में ट्रांसमिट किये जाते हैं तथा स्टेटस सिगनल, जो उस मशीन चक्र में किये जाने वाले ऑपरेश]\न को प्रदर्शित करते हैं, इन लाइनों पर मशीन चक्र के अन्तिम भाग में ट्रांसमिट किये जाते हैं।

A16/S3,A17/S4 : एड्रेस लाइनें A16 तथा A17 सेगमेन्ट को आइडेन्टीफाई करने वाले स्टेटस सिगनलों क्रमश: IS तथा SA के साथ मल्टीप्लैक्स्ड होती हैं।

A18/S5 : लाइन A18 इन्ट्रप्ट स्टेटस S5 के साथ मल्टीप्लैक्स्ड होती है।

A19/S6 : लाइन A19, स्टेटस सिगनल S6 के साथ मल्टीप्लैक्स्ड होती है।

RD(bar): यह सिगनल Read ऑपरेशन के लिए प्रयुक्त किया जाता है। जब 8086 किसी मैमोरी अथवा पोर्ट से डेटा पढ़ता है तब यह सिगनल Low होता है।

READY: यह एक इनपुट सिगनल है। एड्रैस की गई मैमोरी अथवा पोर्ट, इस पिन द्वारा Acknowledge सिगनल भेजता है। जब यह लाइन High होती है तब इसका अर्थ है कि पेरीफैरल डेटा ट्रांसफर के लिए तैयार (ready) है।

RESET: यह इनपुट सिगनल है। सिस्टम को रिसैट किये जाते समय यह High होता है।

NMI : यह Nonmaskable Interrupt Input (NMI) है।

INTR : यह भी इनटप्ट इनपुट है। माइक्रोप्रोसेसर द्वारा किसी प्रोग्राम को एक्जीक्यूट किये जाने के समय, इन दोनों लाइनों (NMI तथा INTR) में किसी पर भी सिगनल देकर 8086 को इन्ट्रप्ट किया जा सकता है।

TEST(bar): Wait for test control—जब यह सिगनल Low होता है तब 8086 एक्जीक्यूशन जारी रखता है।

BHE(bar)/S7 : Bus High Enable/ Status-मशीन चक्र की पहली स्टेट T में यह low होता है। यह डेटा बस के | most significant आधे भाग D8-D15 में डेटा एनेबिल करने के लिए प्रयुक्त किया जाता है। D8 –D15 से कनैक्ट की गई। डिवाइस BHE सिगनल का प्रयोग करती है। यह स्टेटस सिगनल S7, के साथ मल्टीप्लैक्स्ड होती है। स्टेटस सिगनल S7 स्टेट T2,T3, T4 में उपलब्ध रहता है।

Maximum and Minimum Modes

पिन 24 से 31 तक फंक्शन माइक्रोप्रोसेसर के ऑपरेशन मोड पर निर्भर करता है। ऑपरेशन मोड इनपट पिन (MN/MX) पर एप्लाई किये गये लॉजिक पर निर्भर करता है। यदि पिन 33, High है तब 8086, Minimum Mode में ऑपरेट होता है तथा पिन 24 से 31 तक के फंक्शन चित्र 10.9 में पिनों के साथ ब्रेकेट (parentheses) में दिए गये फंक्शनों के अनुसार होते हैं।

उदाहरणत: पिन 29, Minimum Mode में WR फंक्शन करता है। यह पिन उस समय Low होगी जब 8086 किसी मैमोरी अथवा पोर्ट में Write करता है। इसी प्रकार पिन 28,M/IO का फंक्शन करेगी। 8086 इस पिन को उस स्थिति में High करेगा जब वह किसी मैमोरी में Writing अथवा मैमोरी से Reading कर रहा होता है। Minimum Mode ऑपरेशन में पिन MN/MX(bar) 5Vdc (Vcc) से कनेक्ट कर दी जाती है।

इसे भी देखे –

यदि पिन MN/MX(bar)low है तब 8086, Maximum मोड में ऑपरेट होता है। इस अवस्था में पिन 24 से 31, चित्र 10.9 में पिनों के साथ दिए गए निमोनिक्स (Mnemonics) में दिए गए फंक्शन करेंगे। Maximum Mode में पिन MN/MY ग्राउन्ड कर दी जाती है।

Minimum तथा Maximum Mode में पिन 24 से 31 तक के फंक्शनों का विवरण निम्न प्रकार है

Minimum Mode

INTA(bar)(Output) : Pin 24. Interrupt Acknowledge-इन्ट्रप्ट सिगनल रिसीव करने पर 8034 Acknowledge सिगनल भेजता है। यह active low सिगनल है।

ALE (Output): Pin 25, Address Latch Enable-यह प्रथम स्टेट में High होता है। 8086. इस मिल द्वारा external परिपथ को सूचित करता है कि डेटा बस पर एड्रेस है।

DEN(bar)(Output) : Pin 26, Data Enable-जब 8086 के साथ ट्रांसिवर 8286/8287 प्रयुक्त किया जाता है तब बाईडायरेक्शनल बफर्स को एनेबिल करने के लिए प्रयुक्त किया जाता है। यह सिगनल एक्टव Low ह

DT/R(bar) (Output) : Pin 27, Data Transmit/Receive-जब 8086 के साथ बस ट्रांसिवर 8286/8287 प्रय किया जाता है तब यह सिगनल उस दिशा को प्रदर्शित करता है जिसमें बफर्स एनेबिल किये गये हैं। जब (DT/R)Hichi है तब बफर्स (यदि DEN द्वारा enable किये गये हैं) डेटा, 8086 से ROM, RAM अथवा पोर्ट्स की ओर ट्रांसफर करते है यदि यह सिगनल Low है तब बफर्स (if enabled), ROM, RAM अथवा पोर्ट से 8086 की ओर डेटा फ्लो होने देते हैं।

M/IO(bar)(Output) : Pin 28-जब यह सिगनल High होता है तब 8086 किसी पोर्ट या मैमोरी से डेटा पटना अथवा मैमोरी में डेटा लोड (write) करता है। 8086 इस सिगनल को उस अवस्था में Low करता है जब वह किसी पोर्ट (110 से डेटा read करता है अथवा पोर्ट (I/O) पर डेटा write करता है।

WR(bar)(Output) : Pin 29-जब 8086, I/O अथवा मैमोरी Write ऑपरेशन करता है तब यह सिगनल Low होता है।

HLDA (Output) : Pin 30, Hold Acknowledge-जब 8086, होल्ड सिगनल रिसीव करता है तब प्रत्युत्तर (response) में वह HLDA सिगनल भेजता है। यह ऐक्टिव High सिगनल है। Hold request हटने पर यह सिगनल Low हो जाता है।

HOLD (Input): Pin 31, Hold-जब कोई अन्य डिवाइस एड्रैस तथा डेटा बस प्रयोग करना चाहती है तब इस पिन द्वारा HOLD सिगनल भेजती है। यह एक्टिव High सिगनल है। Minimum Mode Main जब 8086, Maximum Mode में ऑपरेट होता है तब पिन MN/MX Low होती है। यह पिन ग्राउन्ड कर दी जाती है।

QS1,QS0, (Output) : Pin 24, 25, Instruction Queue Status-इन पिनों पर विभिन्न लॉजिक एवं उनका विवरण इस प्रकार है-

DIAGRAM

S(bar)0,S(bar)1,S(bar)2, (Output) : Pin 26, 27, 28, Status Signals ये सिगनल, बस कन्ट्रोलर 8288 से कनैक्ट किये जात है। 18288 मैमोरी तथा I/O access कन्ट्रोल सिगनल जेनरेट करता है। इन सिगनलों पर लॉजिक एवं उसका विवरण निम्न प्रकार

diagram

LOCK(bar) (Output) : Pin 29-यह एक एक्टिव Low सिगनल है। जब यह Low होता है तब सभी इन्ट्रप्ट मास्क हो जाते हैं तथा HOLDrequest स्वीकार नहीं होती। मल्टीप्रोसेसर प्रणाली में, यह सिगनल सभी प्रोसेसर्स को सूचित करता है कि वे 8086 से बस कन्ट्रोल समाप्त करने के लिए request न करें।

RQ(bar)/GT(bar)1, RQ(bar)/GT(bar)0) : Pin 30 तथा 31, Local Bus Priority Control-अन्य माइक्रोप्रोसेसर्स, इन लाइनों द्वारा 8086 CPU को लोकल बस छोड़ने (local bus release) के लिए request करते हैं। RQ(bar)/GT(bar)0 की प्रायोरिटी RQ(bar)/GT(bar)1 की तुलना में उच्च है।

Maximum Mode में सिगनल WR, DEN तथा DT/R माइक्रोप्रोसेसर से सीधे उपलब्ध नहीं होते। ये सिगनल 8288 से प्राप्त होते हैं।

reference-https://www.geeksforgeeks.org/pin-diagram-8086-

निवेदन-अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर(8086 pin diagram in hindi) करे और आपको जिस टॉपिक(8086 pin diagram in hindi) पर आपको पढना या नोट्स चाहिए तो हमें जरुर कमेंट(8086 pin diagram in hindi) करे आपका कमेंट्स हमारे लिए बहु मूल्य है धन्यवाद

Leave a Comment